डेरे का उत्तराधिकारी बनाया जा सकता है राम रहीम का बेटा जसमीत इंसा

बलात्कारी बाबा गुरमीत राम रहीम के जेल में पहुंचने के बाद बड़ा सवाल है कि उसका उत्तराधिकारी कौन बनेगा, करोड़ों की जायदाद कौन संभालेगा ? अब खबर आ रही है कि राम रहीम के बेटे जसमीत इंसा को डेरे का कामकाज सौंपा जा सकता है.

राम रहीम की मां नसीब कौर ने डेरा कमेटी के सदस्यों के सामने इच्छा जताई है कि राम रहीम के बेटे जसमीत इंसा को डेरे का कामकाज सौंपा जाए. 33 साल का जसमीत इंसा ने एबीए किया हुआ है और अभी वो डेरे से जुड़ी कई अहम जिम्मेदारियां संभालता है.

राम रहीम के परिवार में दो बेटियां हैं. दोनों शादीशुदा हैं. इसके अलावा एक बेटा है और एक मुंह बोली बेटी भी है, लेकिन सवाल ये है कि डेरा सच्चा सौदा की विरासत का मालिक कौन होगा?

राम रहीम के वारिसों में दो बड़े नाम सामने आ रहे हैं. पहला है 35 साल की गुरु ब्रह्मचारी विपासना का. जिन्हें डेरा के सिस्टम में नंबर जो माना जाता है. बाबा गुरमीत के बाद डेरा में अगर लोग किसी से निर्देश लेते हैं तो वो विपासना से लेते हैं.

दूसरी दावेदार हनीप्रीत है, जिसे राम रहीम ने गोद ले रखा है. सात साल पहले 28 साल की हनीप्रीत डेरा प्रमुख की राजदार बन थी. हनीप्रीत को गुरमीत के सबसे करीबी लोगों में माना जाता है. बाबा की जो फिल्में आती हैं, उनके निर्माण में हनीप्रीत का प्रमुख रोल रहता है.

राम रहीम की दोनों बेटियां शादीशुदा हैं. एक दामाद डेरा अस्पताल के सीएमडी यानी मुख्य प्रबंध निदेशक है. दूसरा डेरा एग्रीकल्चर से जुड़े मामलों का कामकाज संभालते हैं. बेटा खेल गांव और क्रिकेट अकेडमी का काम देखता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here